December 24, 2012

Desh taiyaar hai

आज इंडिया गेट में मचा हाहाकार है 
उबल रहा है हर युवा , 
के संभल जाओ , बहोत हुआ 
करो इन्साफ , ये गुस्सा है 
हर लड़की की चीत्कार है 
मांग है , बराबरी से जीने का अधिकार है 
तड़प जाएँ वो वेहशी , जिन्होंने किया भारत माँ की अस्मिता पे वार है 

कराह रही है दामिनी , कराह रहा है देश 
पुलिस बरसाती लाठियां , आंसू गैस की बोछार है 
मुंह छुपा कर बैठें है देश के सरंक्षक ,
गूंगी बहरी पत्थर सरकार है

अब हरे और सन्तरी रंगों से अलग न कर सकोगे हमको
हम कमज़ोर नहीं हैं अब , एकजुट तैयार हैं
अब उठेगा जनाज़ा इस सरकार का
ग़र इक और बरसी लाठी यहाँ
की यह अमानवीय है , जनता का तिरस्कार है
न सहेंगे और हम, न थमेंगे अब कदम
के अब कफ़न बांधे खड़ा है हर युवा
ख़बरदार है, तैयार है

- मीनाक्षी ( दिसम्बर 23, 2012)

No comments:

Post a Comment